पुरस्कार शुरू करने की मांग

पुरस्कार शुरू करने की मांग

अखिल भारतीय गंगादास हिंदी संस्थान ने केंद्र सरकार को एक पत्र भेजकर गंगा दास के नाम से एक पुरस्कार शुरू करने की मांग की है बैठक में संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष कर्मवीर सिंह ने कहा कि खड़ी बोली के महाकवि गंगा दास का जन्म 1823 में बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम रसूलपुर में हुआ था गंगा दास ने देश को आजादी दिलाने के लिए काफी संघर्ष किया उन्होंने अंग्रेजों से युद्ध करने और भारत को स्वतंत्र कराने के लिए संतों की एक सेना भी बनाई थी संत सेना ने ग्वालियर में अंग्रेजों से युद्ध भी हुआ जिनमें 753 संत शहीद हुए उन्होंने बताया कि महाकवि के नाम से संस्थान द्वारा ग्राम रसूलपुर में एक विद्यालय भी चलाया जा रहा है, ताकि गंगा दास की याद ताजा रहे इसलिए ऐसे महान कवि की याद में उनके नाम से केंद्र सरकार ने पुरस्कार शुरू करें कि से खड़ी बोली के कवियों को उत्साह मिलेगा वहीं क्षेत्र का सम्मान भी बढ़ेगा

Spread the word

Leave a Reply

Close Menu
Show Buttons
Hide Buttons
×

Cart